ईवीएम को बैन क्यों कर देना चाहिए?

ईवीएम को बैन क्यों कर देना चाहिए? पढ़ें पूरी खबर…

ये सवाल कई महीनो से चल रहे हैं की क्या ईवीएम मे गड़बड़ी की जा सकती है?

आपको बता दें की भले ही आम आदमी पार्टी के सौरव भारद्वाज ने इसे सदन में सिद्ध की कोशिश की लेकिन उसे भी गलत बताया गया! उसके बाद कॉंग्रेस पार्टी भी इसपर सवाल कर रही है कि ईवीएम मे गड़बड़ी की जा सकती है!

अब सवाल ये है कि इसका सबूत कैसे मिलेगा, तो हम आपको बता दें कि ईवीएम मे गड़बड़ी हो या ना हो पर चुनाव प्रक्रिया मे गड़बड़ी तो की जा सकती है!
जैसा कि हमने उत्तर प्रदेश चुनाव से लेकर गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीशगढ़ राजस्थान तक चुनाव के समय ईवीएम मशीने बंद पाई गई, इसका अर्थ यह है कि जब ज्यादा तादात मे लोग वोटिंग करने आए तो मशीन ही बंद कर दो, लोग वापस लौट जाएंगे! ऐसी प्रक्रिया हर क्षेत्र मे हर चुनाव मे देखने को मिली है, इससे शंका ना केवल ईवीएम पर होता है बल्कि चुनाव करवाने वाले अधिकारियों पर भी उठता है, क्या मशीने बिना चेक किए ही चुनाव मे मंगाई जाती हैं जो एम वक़्त पर बंद पड़ जाती है? इसके पीछे क्या नीति है?

देखें पूरा वीडियो…

तो इसका उत्तर आजतक कोई स्पष्ट नही बता पाया है, जबकि ईवीएम पर सबसे पहले सवाल बसपा सुप्रीमो मायावती जी ने उठाया था, उसके बाद आम आदमी पार्टी के अर्विद् केजरीवाल, फिर सपा के अखिलेश यादव ने!
काई लोगों ने इसे सिद्ध करना चाहा कि की ईवीएम मे गड़बड़ी की जा सकती है परंतु चुनाव आयोग इसे मानने से इनकार करता रहा!

आपको बता दें की भले ही आम आदमी पार्टी के सौरव भारद्वाज ने इसे सदन में सिद्ध की कोशिश की लेकिन उसे भी गलत बताया गया! उसके बाद कॉंग्रेस पार्टी भी इसपर सवाल कर रही है कि ईवीएम मे गड़बड़ी की जा सकती है!

2 thoughts on “ईवीएम को बैन क्यों कर देना चाहिए?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *