झूँठी खबर:

Fake News:
पुलवामा अटैक के पहले प्रियंका गांधी पाकिस्तानी आर्मी चीफ से दुबई में मिली

पुलवामा आतंकी हमले के बाद सोशल मीडिया पर एक मैसेज फैलाया जा रहा कि प्रियंका गांधी 7 फरवरी को दुबई में पाकिस्तानी आर्मी चीफ कमर जावेद बाजवा से मिली थी, उस मैसेज के अंत मे लिखा है “गौरव प्रधान ने सचेत किआ था”! इस मैसेज को हजारों लोगों ने शेयर किया है जो कि “Narendra Damodar Modi” नामक फेसबुक ग्रुप से फैलाया जा रहा है!

और यह मैसेज फेसबुक और ट्विटर दोनो पर फैलाया जा रहा है जिसमे “पप्पू की साइको बहन प्रियंका ने दुबई में पाक आर्मी चीफ बाजवा से 7 फ़रवरी को मुलाकात की थी। गौरव प्रधान ने सचेत किया था।” लिखा है,

आपको बता दे कि गौरव प्रधान ने ट्वीट करके ये कहा था;

प्रधान ने ट्वीट में “Nomi” का मतलब पाकिस्तानी एंटर सर्विस इंटेलिजेंस चीफ का दाहिना हाथ और “Bottle” शब्द का मतलब प्रियंका गांधी बताया है, जिसे इन्होंने पहले लिखा था।

प्रधान के इस दावे की सत्यता प्रश उठता है कि Nomi शब्द
किसी मीडिया में नही आया जो कि प्रियंका गांधी से जोड़ा जा सके!

इस फैलाए जा रहे झूंठे मैसेज का कोई जांच का तथ्य नही है, ये सरासर झूँठ है क्योंकि प्रियंका गांधी AICC की जनरल सेक्रेटरी इंचार्ज (उत्तर प्रदेश पूर्व) बनाए जाने के बाद 7 फरवरी को दिल्ली में लोकसभा चुनाव के लिए सभा की थी जिसे मेनस्ट्रीम मीडिया ने लाइव कवरेज किआ था।


ये सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस को बदनाम करने की साजिश है, इसमे कोई सच्चाई नही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *